आपका बच्चा पहली बार जा रहा है स्कूल ट्रिप पर तो 3 बातों का रखे ध्यान

दोस्तो हर माता पिता चाहते है कि उनके बच्चे हर फील्ड में आगे रहे और active रहे.बच्चों की सेफ्टी हर समय माता-पिता के लिए खास होती है पर जब बात होती है बच्चों को फर्स्ट टाइम स्कूल ट्रिप पर भेजने की तो पैरेंट्स को बच्चों सेफ्टी की फिक्र लगी रहती है.दरअसल, पैरेंट्स के लिए बच्चों को किसी भी ट्रिप पर भेजना आसान नहीं होता है. अगर मुश्किल से बच्चों को ट्रिप पर भेज भी दें, तो पूरा समय उनकी सेफ्टी को लेकर परेशान रहते हैं.ऐसे में अगर आपका बच्चा पहली बार जा रहा है स्कूल ट्रिप पर तो 3 बातों का  ध्यान रखे. जिनको अपनाकर आप अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर बेफिकर हो जायेगें.

 आपका बच्चा पहली बार जा रहा है स्कूल ट्रिप पर तो 3 बातों का रखे ध्यान

आपका बच्चा पहली बार जा रहा है स्कूल ट्रिप पर तो 3 बातों का रखे ध्यान

वैसे तो माता-पिता हर संभव अपने बच्चों का ख्याल रखने की कोशिश करते हैं वही कुछ पैरेंट्स बच्चों को अपनी आंखों से एक पल के लिए भी दूर करना नहीं चाहते हैं. लेकिन, कई बार बच्चों की ज़िद के आगे मजबूर होकर उनको स्कूल ट्रिप पर भेजना पड़ जाता है. इस दौरान पैरेंट्स को बच्चों की फिक्र लगी रहती है. ऐसे में कुछ टिप्स को फॉलो करके बच्चों की सुरक्षा पुख्ता की जा सकती है.

Parenting Tips:

  • स्कूल से ट्रिप की सारी जानकारी लें:

  • पैरेंट्स के लिए जरूरी है कि जब भी बच्चों को स्कूल ट्रिप पर भेजें, उससे पहले स्कूल से ट्रिप से सम्बंधित सभी जरूरी जानकारियां हासिल कर लें जैसे कि:
    ट्रिप की लोकेशन क्या है?
    कितना समय बच्चे किस जगह पर रहने वाले हैं?
    बच्चों का केयर टेकर्स कौन है ?
    इस बारे में जानकारी लेने के बाद ट्रिप पर साथ जाने वाले टीचर्स, केयर टेकर्स और गार्ड्स के बारे में भी मालूम करें और उनका फोन नंबर लेना न भूलें.
  • बच्चों को हेल्थ सेफ्टी टिप्स दे

    ट्रिप के दौरान हाइजीन संबंधित लापरवाही से बच्चे बीमार पड़ सकते हैं, इसलिए स्कूल ट्रिप पर भेजने से पहले बच्चों को सेहत का ध्यान रखने की सलाह जरूर दें. इसके साथ ही खाने से पहले हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने के लिए भी कहें. इतना ही नहीं बच्चों के साथ हाइजीन से रिलेटेड चीजें भी जरूर रख दें.

  • टीचर की परमीशन लेना है जरूरी

    पैरेंट्स स्कूल ट्रिप पर बच्चों के साथ मौजूद नहीं होते हैं. ऐसे में उनको हर एक बात के लिए टीचर की परमीशन लेना जरूर सिखाएं. दरअसल, कई बार ट्रिप के दौरान बच्चे बिना टीचर की परमीशन के दोस्तों के साथ अकेले घूमने निकल जाते हैं, जो कि उनके लिए खतरनाक साबित हो सकता है.

  • अनजान लोगों से न मिलने की सलाह दें

    स्कूल ट्रिप पर भेजने से पहले बच्चों को अनजान लोगों से ज्यादा न घुलने-मिलने की सलाह भी दें. कई बार स्कूल ट्रिप के दौरान बच्चों की मुलाक़ात कई अनजान लोगों से भी हो जाती है, जो बच्चों से दोस्ती करके पर्सनल जानकारी हासिल कर सकते हैं. ऐसे में बच्चों को स्ट्रेंजर्स के साथ पर्सनल जानकारी साझा न करने की सलाह भी दें.

Conclucion:दोस्तो उमीद करता हूं कि ये जानकारी आपके काफी काम आयेगी. अगर ये सब बातें आप अपने बच्चों को सिखाते हैं तो आपके बच्चे समाज के प्रति जागरूक भी हो जायेगे और आप भी चिंता मुक्त रहेंगे.

Read more:बरसात में मोमोज खाना हो सकता है खतरनाक ?

FAQ

  • स्कूल ट्रिप बच्चों के लिए क्यों जरूरी है?
    अगर हमारे बच्चे नईं नईं जगहों पर जायेंगे तो एक तो उनका पड़ने में मन लगेगा दूसरा उनको बाहर की दुनिया को भी जानने का मौका मिलेगा वो अपनी जिंदगी को और ज्यादा बेहतर बनाएंगे.
  • बच्चों को स्कूल ट्रिप पर क्यूँ जाना चाहिए?
    कुछ बच्चे पढाई लिखाई के साथ साथ खेल कूद में भी कमजोर होते है ऐसे में अगर बच्चे स्कूल ट्रिप पर जाते है तो उनका आतम विश्वास बड़ता है.वो नई नई बातें सीखते हैं और उनका मन पड़ने और खेलने में लगने लग जाता है.

Leave a Comment